[PDF] सभी बुलिस चार्ट पेटर्न | All Bullish Chart Patterns In Hindi PDF

Date:

हेलो ट्रेडर्स अगर आप ट्रेडिंग करते हैं और बार-बार आपको लॉस होता है तो आप इन चार्ट को देखकर मार्केट पर चैट कर सकते हैं तो आज की इस लेख में हम आपको सभी बुलिस चार्ट पेटर्न (All Bullish Chart Patterns In Hindi) के बारे में बताने वाले हैं और साथ में आपको इन सभी चार्ट पेटर्न की पीडीएफ भी देने वाले हैं।

दोस्तों आप लाइव मार्केट में इन पैटर्न को देखकर आसानी से ट्रेड ले सकते हैं और अच्छा खासा प्रकट कमा सकते हैं अगर आप अच्छा खासा प्रॉफिट कमाते हैं तो एक आप अच्छी ट्रेडर भी बन सकते हैं तो चलिए आपको ले चलते हैं इन सभी चार्ट पेटर्न के बारे में विस्तार से जानने के लिए-

सभी बुलिस चार्ट पेटर्न | All Bullish Chart Patterns In Hindi

दोस्तों सभी चार्ट पेटर्न के बारे में बताने से पहले आपको बता दें कि सभी Bullish Chart Patterns दो प्रकार के होते हैं-

  1. Reversal – साथियों अगर शेयर के Price लगातार नीचे गिर रहे हैं और जब चार्ट पेटर्न बनता है और मार्केट ऊपर जाता है तो इन्हें रिवर्सल चार्ट पेटर्न कहते हैं।
  2. Continuation – अगर मार्केट में चल रहा है और अगर यह पैटर्न बनता है तो मार्केट अब और भी ऊपर जाएगा इन्हीं Continuation chart pattern क्या कहते हैं।

साथियों हम आपके लिए सभी चार्ट पेटर्न की लिस्ट बना कर लाए हैं जब भी दोस्तों ऐसे चार्ट पेटर्न शेयर के कैंडलेस्टिक चार्ट में बनते देखें तो आप शेयर के भाव पर जाने वाले हैं इसी के साथ आपको इन सभी चार्ट पेटर्न में एंट्री और एग्जिट एवं स्टॉपलॉस के बारे में भी बताएंगे तो चलिए जानते हैं इन सभी चार्ट पेटर्न के बारे में विस्तार से-

All Reversal Bullish Chart Patterns In Hindi

साथियों हम ने सबसे पहले आपके लिए सभी रिवर्सल बोले चार्ट पेटर्न के बारे में बताया है जोकि निम्नलिखित हैं-

1. Buoble Bottom या W Chart Patterns

दोस्तों जब किसी Shere के Price गिर रहे होते हैं और भाव गिरते गिरते जब किसी एक Support पर आकर ऊपर जाने लगते हैं और फिर Resistance लेकर नीचे गिरते हैं और Support पर आकर फिर से ऊपर जाता है और Resistance को तोड़ देता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो इसे Buoble Bottom या W Chart Patterns कहते हैं। साथियों ऐसा पैटर्न आपको चार्ट में दिखता है तो आपको तुरंत ऐसे शेयर को Buy कर लेना है और इसका stop-loss आपको जो अभी सपोर्ट था उसे रखना है एवं टारगेट आप को 1:2 का रखना है।

2. Tripple Bottom chart pattern

जब कोई शेयर के भाव नीचे गिर रहे होते हैं और किसी एक सपोर्ट पर आकर ऊपर उठने लगते हैं और रजिस्टेंस लेकर नीचे गिरते हैं इस प्रक्रिया में शेयर के भाव तीन बार सपोर्ट लेकर रजिस्टेंस को ब्रेक करता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो उसे ट्रिपल बॉटम चार्ट पेटर्न (Tripple Bottom chart pattern) कहते हैं।

जैसे ही शेयर के भाव रजिस्टेंस को ब्रेक करते हैं तो आप शेयर को खरीद सकते हैं या फिर आप रिट्रेसमेंट का इंतजार कर सकते हैं क्योंकि आप शेयर के भाव ऊपर जाने वाले हैं कई बार शेयर के भाव बिना रिट्रेसमेंट लिए ही ऊपर चले जाते हैं तो ऐसे में आपको रजिस्टेंस के ब्रेक होने पर ही एंट्री लेना है और इसका स्टॉप लॉस आपको सपोर्ट का लेना है एवं आप का टारगेट 1:2 रहेगा।

3. Inverted Head and Shoulder Chart pattern

साथियों जब किसी शेयर के भाव नीचे गिर रहे होते हैं और पहला सपोर्ट लेने के बाद रजिस्टेंस लेते हैं और फिर नीचे गिरता है और सपोर्ट को ब्रेक करके थोड़ा नीचे सपोर्ट लेता है और फिर ऊपर आता है और रजिस्टेंस लेकर फिर से नीचे गिरता है और यह पहले वाली सपोर्ट से वापस ऊपर उठने लगता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो इसे इनवर्टेड हेड एंड शोल्डर्स चार्ट पेटर्न कहते हैं।

साथियों जैसे ही रजिस्टेंस को ब्रेक करता है तो आपको एंट्री ले लेना है और आपका स्टॉप लॉस तीसरे वाले सपोर्ट का होगा और आपका टारगेट 1:2 का होगा।

4.Falling Wedge Chart Pattern

जब किसी शेयर के भाव तेजी से नीचे गिर रहे होते हैं और किसी एक सपोर्ट ट्रेंडलाइन से सपोर्ट लेकर ऊपर उठते हैं और किसी एक रजिस्टेंस लैंडलाइन से रजिस्टेंस लेकर नीचे गिरते हैं और यह धीरे-धीरे कंप्रेस होता जाता है या फिर वॉल्यूम कम होते जाते हैं तो जब भी यह रजिस्टेंस ट्रेंडलाइन को ब्रेक करता है तब शेयर के भाव बहुत तेजी से बढ़ते हैं जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो इसे Falling Wedge Chart Pattern कहते हैं।

साथियों कई बार ऐसे चार्ट पेटर्न में यह है शेयर के भाव सपोर्ट ट्रेन लाइन को ब्रेक कर देते हैं तो ऐसे में शेयर के भाव बहुत तेजी से नीचे गिरते हैं तो आप ऐसे में शेयर को शार्ट भी कर सकते हैं अगर रजिस्टेंस ट्रेंडलाइन को ब्रेक करता है तो आप ब्रेक करते ही इन शेयर को खरीद सकते हैं और आपका स्टॉप लॉस Support Trendline का लास्ट Swing होगा और टारगेट आप 1:2 या ट्रेलिंग स्टॉप लॉस से अच्छा खासा मुनाफा कमा सकते हैं।

5. Cup And Handle Chart Pattern

किसी शेयर के भाव लगातार नीचे गिर रहे होते हैं और नीचे गिरते गिरते सपोर्ट लेकर धीरे-धीरे ऊपर उठते हैं और रजिस्टेंस के चलते फिर से नीचे गिरते हैं और थोड़ा नीचे गिरते ही फिर से रजिस्टेंस को ब्रेक करता है तो ऐसे मैं आपको अगर किसी एक चाय के कप जैसा पैटर्न दिखता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो इसे कप एंड हैंडल चार्ट पेटर्न कहते हैं

जैसे ही यह रजिस्टेंस को ब्रेक करता है आपको शेयर को खरीद लेना है और इसका स्टॉपलॉस आपको कब के हैंडल का Low रखना है आपका टारगेट आपके स्टॉपलॉस से दुगना या 3 गुना तक होगा।

साथियों यह तो All Reversal Bullish Chart Patterns अब हम आपको Continuation Bullish Chart Patterns के बारे में बताने वाले हैं जो नीचे निम्नलिखित हैं।

All Continuation Bullish Chart Patterns

दोस्तों जब शेयर के भाव बढ़ रहे होते हैं तब यह पैटर्न बनते हैं तो यह संकेत मिलता है कि अब शेयर के भाव और ऊपर जाते हैं तो चलिए यह रहे सभी कंटीन्यूअस पुलिस चार्ट पेटर्न-

1. Ascending Triangle

साथियों किसी शेयर के भाव बढ़ रहे होते हैं और Ragistens के चलते नीचे गिरते हैं और फिर से ऊपर उठते हैं और उसी रजिस्ट्रेंट से फिर नीचे गिरते हैं और थोड़ा नीचे गिर गए फिर से रजिस्टेंस पर बढ़ता है और नीचे एक ट्रेंडलाइन बनाता है और एक समय पर यह रजिस्टेंस को ब्रेक कर देता है तो अब शेयर के भाव बहुत तेजी से बढ़ाने के संकेत देता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है लेकिन कुछ कंडीशन में यह ट्रेंड लाइन को ब्रेक करता है तो प्राइस नीचे भी गिर सकते हैं। ऐसे ही Ascending Triangle Chart Pattern कहते हैं।

दोस्तों जैसे ही शेयर के भाव रजिस्टेंस को ब्रेक करते हैं आप इन शेयर को खरीद सकते हैं और इनका स्टॉपलॉस आप लैंडलाइन का लास्ट स्विंग रख सकते हैं एवं आप का टारगेट दोगुना या फिर 3 गुना रख सकते हैं।

Also Read – ऑप्शन ट्रेडिंग क्या है? पूरी जानकारी

2. Bullish Rectangle Chart Pattern

जब किसी शेयर के भाव ऊपर जा रहे होते हैं और  किसी रजिस्टेंस पर आकर नीचे गिरता है और थोड़ा नीचे गिर कर फिर रजिस्टेंस को टच करता है और ऐसा बार-बार करता है तब एक बॉक्स बनता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो इसे Bullish Rectangle Chart Pattern कहते हैं।

जैसे ही शेयर के भाव रजिस्टेंस को ब्रेक करते हैं तो आप शेयर को खरीद सकते हैं और आप स्टॉपलॉस बॉक्स के सेंटर पर रख सकते हैं और आप का टारगेट जितना बॉक्स में प्राइस का डिफरेंस है उतना ही आप टारगेट रख सकते हैं।

3. Bullish Flag Chart Pattern

इस पैटर्न में ऊपर जा रहे होते हैं और किसी एक रेजिस्टेंस पर जाकर शेयर के भाव नीचे गिरते हैं और ऊपर जाते हैं और ट्रेंडलाइन बनाते हैं जैसा कि इमेज में दिखाया गया है और यह देखने में झंडे के आकार का दिखता है तो इसे Bullish Flag Chart Pattern कहते हैं।

जैसे ही साथ ही है फ्लैग के रजिस्टेंस ट्रेडलाइन को ब्रेक करता है तो आप शेयर को खरीद सकते हैं और इसका स्टॉप लॉस लास्ट स्विंग रखेंगे और आपका टारगेट दोगुना होगा।

4. Symmetrical Triangle Chart Pattern

साथियों इस पैटर्न में शेयर के भाव ऊपर जा रहा है होता है और स्टॉक एक ट्रायंगल में आकर फस जाता है और Shrink हो जाता है एवं बाद में ट्रायंगल को ब्रेक करता है जैसा कि ऊपर इमेज में दिखाया गया है तो इसे Symmetrical Triangle Chart Pattern कहते हैं।

ज्यादातर कंडीशन में है ऊपर ही ब्रेक करता है तो जैसे ही ऊपर ब्रेक करता है आप शेयर को खरीद सकते हैं एवं इसका स्टॉप लॉस आफ लास्ट स्विंग रख सकते हैं और टारगेट आपका इससे दुगना होगा और अगर यह नीचे ब्रेक करता है तो भी आप का टारगेट एवं स्टॉप लॉस वही सेम होगा।

All Bullish Chart Patterns Pdf In Hindi

अगर आप इन सभी चार्ट पेटर्न की पीडीएफ चाहते हैं तो हमने इन सभी चार्ट पेटर्न की पीडीएफ फ्री डाउनलोड लिंक नीचे दी है वहां पर क्लिक करके आप पीडीएफ को डाउनलोड कर सकते हैं-

अगर शेयर मार्केट से संबंधित कुछ अच्छी काम की बुक की पीडीएफ चाहिए तो आप हमें pkdigitalseva83@gmail.com मेल पर संपर्क करें।

दोस्तों अनशन शब्दों में कहना चाहूंगा कि यह जो हमने आपको चार्ट पेटर्न बताए हैं यह सभी शेयर के प्राइज ऊपर ले जाने वाले पैटर्न हैं और इनकी एक्यूरेसी 80% है अगर आप मार्केट में नए हैं और ट्रेडिंग करते हैं तो आप इन्हें ध्यान में रखकर जरूर ट्रेडिंग करें और आप एक सफल ट्रेडर बन सकते हैं ऐसी ही और ट्रेडिंग से संबंधित जानकारी के लिए Tradeyukti ब्लॉग को पढ़ते रहिए धन्यवाद।

Pushpendra Morya
Pushpendra Moryahttps://tradeyukti.com
साथियों मेरा नाम पुष्पेंद्र मौर्य है और मैं शेयर मार्केट में लगभग 3 वर्ष से काम कर रहा हूं और मैं आपके ब्लॉग के माध्यम से शेयर मार्केट के बारे में जानकारी प्रदान करना मुझे अच्छा लगता है इसलिए मैं यहां पर शेयर मार्केट और ट्रेडिंग से संबंधित जानकारियां आपके साथ शेयर करता रहूंगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Related articles

Algo Trading क्या है कैसे करें फायदे व नुकसान पूरी जानकारी | Algo Trading in Hindi

साथियों अगर आप शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते हैं और आपने एल्गो ट्रेडिंग के बारे में सुना है...

Dividend Meaning in hindi | Dividend क्या है फायदे व नुकसान पूरी जानकारी

साथियों आज के टॉपिक में हम आपको बताने वाले हैं की डिविडेंड का हिंदी मतलब क्या होता है...

Three Outside Up Candlestic पैटर्न क्या है? पूरी जानकारी

आज तक हमने आपको बहुत से कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में बताया और आज भी हम आपको कुछ...

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न की पुरी जानकारी | Doji Candlestick Pattern In Hindi

अगर आपको भी शेयर मार्केट में इंटरेस्ट है तो चलिए मैं आपको बताता हूं कि शेयर मार्केट में...