Algo Trading क्या है कैसे करें फायदे व नुकसान पूरी जानकारी | Algo Trading in Hindi

Date:

साथियों अगर आप शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते हैं और आपने एल्गो ट्रेडिंग के बारे में सुना है तो आज के इस लेख में हम आपके लिए बताने वाले हैं कि एल्गो ट्रेडिंग क्या है कैसे करते हैं एवं इसके फायदे वह नुकसान (Algo Trading in hindi) क्या है पूरी जानकारी विस्तार से देने वाले हैं।

साथियों पहले के जमाने में जो ट्रेडिंग होती थी उसके लिए पेपर ट्रेड होती थी यानी कि कागज पर लिखा जाता था ऑनलाइन का कोई जमाना नहीं था लेकिन भारत में सन 2000 में जब शेयर मार्केट ऑनलाइन आया जिससे लोग अपने घर बैठे मोबाइल लैपटॉप कंप्यूटर आदि से ट्रेडिंग कर सकते हैं और अब एक और नया ट्रेडिंग का कंसेप्ट आया है जिसे हम एल्गो ट्रेडिंग कहते हैं तो चलिए जानते हैं की एल्गो ट्रेडिंग क्या होती है एल्गो ट्रेडिंग कैसे की जाती है एवं इसके फायदे नुकसान क्या है पूरी जानकारी विस्तार से-

एल्गो ट्रेडिंग क्या है | What is algo Trading in Hindi

एल्गो ट्रेडिंग का मतलब है कि ऑटोमेटिक ट्रेड होना या फिर कंप्यूटर Bot द्वारा ट्रेड होना जिसे हम एल्गोरिदम भी कहते हैं आसान भाषा में कहें तो की Algo Trading Means Algorithm trading कहते हैं जिसे कंप्यूटर में एक बार algorithm सेट करने पर कंप्यूटर ऑटोमेटिक ट्रेड करेगा और प्रॉफिट होने पर हमारे Trade को काटेगा या फिर स्टॉप लॉस हो जाने पर Trade को काट देगा इसमें व्यक्ति के इमोशन या फिर व्यक्ति का होना जरूरी नहीं होता है। इसे एल्गो ट्रेडिंग कहते हैं।

ये ऐसा सॉफ्टवेयर होता है जो रूल्स बेस पर होता है जिसमे पहले से ही कोडिंग की मदद से सारी चीज़े सेट की जाती है और फिर उसके माध्यम से ही एल्गो ट्रेडिंग काम करता है इसमें हमें पहले से ही हमारे रूल्स, इंस्ट्रक्शन्स या फिर लॉजिक को सेट करना होता है और फिर इसी लॉजिक पर हमारा लैपटॉप एल्गो ट्रेडिंग में काम करता है। ये रूल्स, और इंस्ट्रक्शन्स आप अपने हिसाब से सेट कर सकते है।

उदाहरण के लिए कहे कि अगर आपने सॉफ्टवेयर में एल्गो ट्रेडिंग में रूल सेट किए हैं कि किसी शेयर के प्राइस 9 Day Moving Average से नीचे है और जैसे ही ऊपर क्रॉस करते हैं तो हमारे 50 शेयर Buy हो जाए और 10% का स्टॉपलॉस रखें एवं 20% प्रॉफिट होने पर 50 Shere को Sell कर दे। या फिर 10% का लॉस होने पर 50 Shere को Sell कर दे। यह नियम आपने एल्बमें सेट करके छोड़ दिया है।

जैसे ही मार्केट में ऐसी कंडीशन बनेगी तो आपका एल्बो शेयर को तुरंत को तुरंत खरीद लेगा एवं 10% लॉस होने पर या 20% प्रॉफिट होने पर आपके शेयर को बेच देगा इसमें आपको मैनुअली कुछ भी नहीं करना होगा तो इसे ही एल्गो ट्रेडिंग कहते हैं मतलब आपको एक बार सेट करना है और फिर कुछ भी नहीं करना है।

एल्गो ट्रेडिंग का सबसे अच्छी एक विशेषता है कि यह काम सेकंड में कर सकता है एवं आप इससे जितनी चाहे Backtesting कर सकते हैं अगर आप पिछले 5 साल की बैक टेस्टिंग करना चाहते हैं तो यह आपको कुछ ही सेकंड में बैक टेस्टिंग का रिजल्ट बता देगा।

Algo Trading कैसे करें-

साथियों एल्गो ट्रेडिंग का इस्तेमाल अभी बड़े-बड़े इंस्टीट्यूशंस और बड़े-बड़े ट्रेडर करते हैं एवं एल्गो ट्रेडिंग करने के लिए किसी भी कोडिंग लैंग्वेज की जानकारी होना अनिवार्य नहीं है क्योंकि अगर आप एल्गो ट्रेडिंग करना चाहते हैं।

साथियों एल्गो ट्रेडिंग करने के लिए आपको अपने स्टॉक ब्रोकर से API लेनी होगी और उस API को आपको एल्गो ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर से लिंक करनी होगी एल्गो ट्रेडिंग के लिए सबसे अच्छा सॉफ्टवेयर Algo Test है जो कि बिल्कुल फ्री है और लिटिल टेलर इसे आसानी से सीख सकते हैं और अपनी स्ट्रेटजी बना सकते हैं और उसे बैक टेस्ट भी कर सकते हैं।

भारत के शेयर बाजार के लीडिंग स्टॉक ब्रोकर जैसे- Zerodha, Angel one, Upstock , Dhan आदि प्लेटफार्म अपने सॉफ्टवेयर बनाकर रिटेल ट्रेडर्स के लिए उपलब्ध कराते हैं आप इनके सॉफ्टवेयर से अपने एल्गो ट्रेडिंग स्ट्रेटजी बना सकते हैं और ट्रेड कर सकते हैं हां लेकिन आपको थोड़ी बहुत चार्जिस अलग से देने होंगे।

एल्गो ट्रेडिंग कैसे करते हैं इससे रिलेटेड आप यूट्यूब पर वीडियो देख सकते हैं तो आपको एल्गो टेस्ट सॉफ्टवेयर के बारे में वीडियो मिल जाएंगी।

Algo Trading के फायदे

एल्गो ट्रेडिंग के फायदे बहुत हैं जिनमें से कुछ निम्नलिखित हैं-

  •  Emotionaless Trading – एल्गो ट्रेडिंग का सबसे अच्छा फायदा या है कि इसमें किसी व्यक्ति का इंवॉल्वमेंट नहीं होता है जिससे इमोशनल ट्रेडिंग नहीं होती है क्योंकि इमोशनल ट्रेडिंग से हमें अच्छा खासा लॉस हो सकता है एल्गो ट्रेडिंग में इमोशनलेस ट्रेडिंग होती है अगर आपको फायदा होता है तो तो ठीक है लेकिन आपके स्टॉपलॉस पर यह आपको बाहर कर देगा।
  • Unlimited Backtesting– एल्गो सॉफ्टवेयर के माध्यम से आप जितना चाहे व्यक्ति स्टिंग कर सकते हैं और बहुत ही कम समय में आप कई सालों की बैक टेस्टिंग कर सकते हैं जिससे आपकी ट्रेडिंग में बहुत अच्छा कॉन्फिडेंस बिल्ड होता है।
  •  High Speed Trade – किसी इंसान द्वारा कोई भी ट्रेड बहुत जल्दी नहीं लिया जा सकता समय लगता है और जो इंस्टीट्यूशंस और बड़ी ट्रेडर के लिए यह आसान नहीं होता उन्हें बहुत जल्दी ट्रेड लेने होते हैं और बड़ी क्वांटिटी में ट्रेड लेने होते हैं लेकिन मार्केट में ज्यादा कॉन्टिटी के आर्डर एक ही समय में ऑर्डर करना आसान नहीं है लेकिन एल्गो ट्रेडिंग से बहुत आसान बनाती है एल्गो ट्रेडिंग से माध्यम से आप सेकंड में अपने ऑर्डर को एग्जीक्यूट कर सकते हैं।
  • Time Freedom –  जब हम ट्रेड लेते हैं तो हमें मार्केट को दिनभर देखना होता है और टारगेट एवं लॉस को देखना होता है लेकिन जब आपने एक बार एल्बो सेट कर दिया है तो आप और भी अपना काम कर सकते हैं एवं ट्रेडिंग का काम मार्केट में आपका एल्गो ट्रेडिंग करेगा इसमें आपकी समय की बचत अच्छी होती है अगर आपके पास समय की कमी है तो एल्गो ट्रेडिंग आपके लिए वरदान है।
  • एल्गो ट्रेडिंग में आप अनलिमिटेड स्टॉक के डाटा को एनालाइज कर सकते हैं एवं उन पर एक ही टाइम पर नजर रख सकते हैं।

Algo Trading के नुकसान

एल्गो ट्रेडिंग आज के समय में बहुत प्रचलित हो रहा है और लोगों का कहना है कि एल्गो ट्रेडिंग भविष्य है क्योंकि भविष्य मेल को ट्रेडिंग ही होने वाली है तो दोस्तों एल्गो ट्रेडिंग के नुकसान की बात करें तो एल्गो ट्रेडिंग के नुकसान बहुत कम है लेकिन किसी भी नए ट्रेडर के लिए एल्गो ट्रेडिंग बिल्कुल भी नहीं है पहले उसे मैनुअली ट्रेडिंग सीखनी होगी।

इसी के साथ आपको बता दें कि एल्गो ट्रेडिंग कंप्यूटर या फिर रोबोट द्वारा जाने वाली ट्रेडिंग है और आपको पता ही होगा कि कंप्यूटर कभी भी गलती नहीं करता है अगर आप कोई Algo Trading स्ट्रेटजी बना रहे हैं और उसमें कोई गलती हो जाती है तो आप इसे इग्नोर बिल्कुल भी नहीं कर सकते क्योंकि इससे आपको बहुत ज्यादा नुकसान हो सकता है।

Also Read- Option Trading क्या है पूरी जानकारी

Dividend क्या है पूरी जानकारी

तो साथियों आशा करता हूं कि आपको इस लेख के माध्यम से एल्गो ट्रेडिंग क्या है (Algo Trading in Hindi) एल्गो ट्रेडिंग कैसे करते हैं एल्गो ट्रेडिंग के फायदे एवं नुकसान क्या है इससे संबंधित पूरी जानकारी आपको विस्तार से मिल गई होगी ऐसे ही शेयर मार्केट से संबंधित खबरों एवं जानकारियों के लिए हमारे ब्लॉग को पढ़ते रहिए एवं इस लेख को अपने दोस्तों के साथ नीचे दिए गए शेयर बटन के माध्यम से शेयर जरूर करें धन्यवाद।

Pushpendra Morya
Pushpendra Moryahttps://tradeyukti.com
साथियों मेरा नाम पुष्पेंद्र मौर्य है और मैं शेयर मार्केट में लगभग 3 वर्ष से काम कर रहा हूं और मैं आपके ब्लॉग के माध्यम से शेयर मार्केट के बारे में जानकारी प्रदान करना मुझे अच्छा लगता है इसलिए मैं यहां पर शेयर मार्केट और ट्रेडिंग से संबंधित जानकारियां आपके साथ शेयर करता रहूंगा।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Related articles

Dividend Meaning in hindi | Dividend क्या है फायदे व नुकसान पूरी जानकारी

साथियों आज के टॉपिक में हम आपको बताने वाले हैं की डिविडेंड का हिंदी मतलब क्या होता है...

[PDF] सभी बुलिस चार्ट पेटर्न | All Bullish Chart Patterns In Hindi PDF

हेलो ट्रेडर्स अगर आप ट्रेडिंग करते हैं और बार-बार आपको लॉस होता है तो आप इन चार्ट को...

Three Outside Up Candlestic पैटर्न क्या है? पूरी जानकारी

आज तक हमने आपको बहुत से कैंडलस्टिक पैटर्न के बारे में बताया और आज भी हम आपको कुछ...

डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न की पुरी जानकारी | Doji Candlestick Pattern In Hindi

अगर आपको भी शेयर मार्केट में इंटरेस्ट है तो चलिए मैं आपको बताता हूं कि शेयर मार्केट में...